वन परीक्षेत्र शाहपुर में जाँच के दौरान वाहन चालक द्वारा की गई संघ के नाम पर दबंगाई । डीएफओ को दिया आवेदन

वन परीक्षेत्र शाहपुर में जाँच के दौरान वाहन चालक द्वारा की गई संघ के नाम पर दबंगाई । डीएफओ को दिया आवेदन
वन परीक्षेत्र शाहपुर में जाँच के दौरान वाहन चालक द्वारा की गई संघ के नाम पर दबंगाई । डीएफओ को दिया आवेदन
वन परीक्षेत्र शाहपुर में जाँच के दौरान वाहन चालक द्वारा की गई संघ के नाम पर दबंगाई । डीएफओ को दिया आवेदन
वन परीक्षेत्र शाहपुर में जाँच के दौरान वाहन चालक द्वारा की गई संघ के नाम पर दबंगाई । डीएफओ को दिया आवेदन
। शाहपुर : मुखबीर द्वारा दुरभाष पर सूचना दी गई की शाहपुर ग्राम में किसी फनीचर मार्ट पर अवैध रूप से लकड़ी वाहन के द्वारा परिवहन कर पहंचाई जा रही है । इस सूचना को वन परिक्षेत्राधिकारी शाहपुर को दी गई जिस पर वन परिक्षेत्र अधिकारी के मौखिक निर्देशानुसार वन कर्मचारी अमित कुमार मिश्रा वनरक्षक एवं जयपालधुर्वे वनरक्षक शाहपुर ग्राम के अंदर रात्रि गश्ती कर रहे थे । दिनांक 10 मई को रात्रि लगभग 10 . 15 PM में । वन कर्मचारी द्वारा देखा की एक पिकअप वाहन आते हये दिखाई दिया । शक के आधार पर पिकअप वाहन को । रोककर उसकी तलाशी करने की कोशिश की गई इस दौरान पिकअप वाहन में बैठे व्यक्ति श्याम राठौर द्वारा वन कर्मचारियों को धमकी भरे स्वर का प्रयोग करते हये कहा की मैं आर . एस . एस . संघ से जुड़ा हुआ व्यक्ति हूँ, तूम लोगों की हिम्मत कैसे हई मेरी गाड़ी रोक कर तलाशी करने की । मेरे वाहन को रोकने का अधिकार किसी के पास नहीं है । तब वन कर्मचारियों ने वाहन स्वामी श्याम राठौर को शांति के साथ समझाया । वही वरिष्ठ अधिकारी द्वारा बताया गया कि ग्राम शाहपुर में अवैध रूप से कटी हुई वनोपज परिवहन होने की सूचना मिली है । इसलिय हम सभी आने - जाने वाले सभी वाहनो की तलाशी कर रहे है । हमें यह अधिकारी बताया गया । विभाग द्वारा प्रदाय आदेश पर वाहनों की जाँच करने का बोलने पर श्याम राठौर द्वारा वन कर्मचारियों से अभद्रता एवं धमकी । देते हये स्वयं के वाहन की तलाशी नही करने दी | इस तरह से शासकीय कार्य में बाधा उत्पन्न करने का कार्य किया गया। इस शिकायत को लेकर चैकिंग वन अमले द्वारा उच्च अधिकारी डीएफओ उत्तर वन मंडल को आवेदन देकर सभी बात की जानकारी दी गयीं । अब इस तरह से दबंगाई पर क्या राजनीति जीतती हैं या प्रशासन यह तो बाद में ही पता चलेगा । क्या लिखा है पत्र में पढ़े ::::---- बतलायाको उपरोक्त विषयांतर्गत निवेदन है कि दिनांक 10 . 05 . 2020 को श्रीमान वनमण्डलाधिकारी उत्तर 2 ) को मुखबीर द्वारा दूरभाष पर सूचना दी गई की शाहपुर ग्राम में किसी फनीचर मार्ट पर अवैध रूपा से लकड़ी वाहन के द्वारा परिवहन कर पहंचाई जा रही है । इस सूचना को श्रीमान द्वारा वन परिक्षेत्राधिकारी शाहपुर को दी गई जिस पर वन परिक्षेत्र अधिकारी के मौखिक निर्देशानुसार वन कर्मचारी अमित कुमार मिश्रा वनरक्षक एवं जयपालधुर्वे वनरक्षक शाहपुर ग्राम के अंदर रात्रि गश्ती कर रहे थे । रात्रि लगभग 10 . 15 PM में वन कर्मचारीद्वारा देखा की एक पिकअप वाहन आते हये दिखाई दिया । शक के आधार पर पिकअप वाहन को रोककर उसकी तलाशी करने की कोशिश की गई इस दौरान पिकअप वाहन में बैठे व्यक्ति श्याम राठौर साकिन । शाहपुर द्वारा वन कर्मचारियों को धमकी भरे स्वर का प्रयोग करते हये कहा की मैं आर . एस . एस . संघ से जुड़ा हुआ व्यक्ति हूं तुम लोगों की हिम्मत कैसे हुई मेरी गाड़ी रोक कर तलाशी करने की । मेरे वाहन को रोकने का अधिकार किसी के पास नहीं है । तब वन कर्मचारियों ने वाहन स्वामी श्याम राठौर को शांति के साथ समझाया । हमारे वरिष्ठ अधिकारीद्वारा बताया गया कि ग्राम शाहपुर में अवैध रूप से कटी हुई वनोपज परिवहन होने की सूचना मिली है । इसलिय हम सभी आने - जाने वाले सभी वाहनो की तलाशी कर रहे है । हमें यह अधिकारी विभाग द्वारा प्रदाय किया गया । इकसे पश्चात भी श्याम राठौर द्वारा वन कर्मचारियों से अभद्रता एवं धमकी देते हये स्वयं के वाहन की तलाशी नही करने दी | जो शासकीय कार्य में बाधा उत्पन्न करने का अपराध है । । _ _ _ उक्त घटना से वन कर्मचारियों में हताशा है एवं उनका मनोबल कमजोर हुआ है । ऐसे माहौल में वन कर्मचारी अपने कर्तव्य पालन में आसक्षम है । _ _ अत : महोदय जी से अनुरोध है कि उक्त घटना के दोषीयों पर कार्यवाही हेतु आवश्यक कदम । उठाने का कष्ट करें ।