पांसे के प्रभार वाली दो सीट पर कांग्रेस का कब्जा (महाराष्ट्र चुनाव के नतीजे)

पांसे के प्रभार वाली दो सीट पर कांग्रेस का कब्जा (महाराष्ट्र चुनाव के नतीजे)

पांसे के प्रभार वाली दो सीट पर कांग्रेस का कब्जा (महाराष्ट्र चुनाव के नतीजे)

बैतूल (प्रकाश खातरकर)

अंततः सुखदेव पांसे ने बैतूल जिले में अपने राजनीतिक कौशल की छाप छोड़ने के बाद इस जिले के सीमावर्ती महाराष्ट्र में भी अपनी धाक जमाने मे कामयाब हो गए।दरअसल सुखदेव पांसे को बैतूल सीमा से सटे महाराष्ट्र के अमरावती जिले की दो विधानसभा क्रमशः तिवसा और मोर्शी का प्रभार सौंपा गया था।यह दोनों सीटो के नतीजे आज कांग्रेस के पक्ष में जाने से सुखदेव पांसे के कद में काफी इजाफा होने के संकेत मिलने लगे है।आपको बता दे पांसे को अमरावती जिले के मोर्शी बरूढ और तिवसा का प्रभार दिया गया था।जिसमे तिवसा से यशोमती ठाकुर और मोर्शी से देवेंद्र भोयार के पक्ष में पांसे ने धुंआधार प्रचार किया।उनके प्रचार में महाराष्ट्र के सीमावर्ती बैतूल जिले के ग्रामो के कार्यकर्ताओं ने भी लगातार उनके साथ प्रचार किया और कामयाब हुए.

इस आशय की जानकारी देते हुए केलबेहरा के कांग्रेस मंडलम अध्यक्ष धनराज गावंडे ने बताया की प्रचार में पांसे की टीम में वे खुद और जाबीर भाई,पूरन पटेल,डॉ पाटनकर,सालबर्डी से दीपक,सुखदेव मडीकर,और अब्दुल हकीम पूरे समय प्रचार में साथ रहे।पांसे की सभाओं को जो प्रतिसाद मील रहा था उसके फलस्वरूप महाराष्ट्र के लोगो ने पहले ही अंदाज लगा लिया था की उक्त दोनों सीट कांग्रेस जीत रही है।हुआ भी ऐसा ही आज शाम 5 जब नतीजे आये तो मोर्शी से देवेंद्र भोयार और यशोमती ठाकुर विजयी घोषित कर दिए गए।उनकी विजय पर महाराष्ट्र के कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा लगातार पांसे को बधाई देने का सिलसीला जारी है।विजयी प्रत्यासी उनकी जीत का श्रेय सुखदेव पांसे को सार्वजनिक रूप से दे रहे है।