पिछले 15 वर्षो से नही फहराया इस शासकीय कार्यलय में झण्डा : देश के राष्ट्रीय पर्व की हो रही हैं अवहेलना।

पिछले 15 वर्षो से नही फहराया इस शासकीय कार्यलय में झण्डा : देश के राष्ट्रीय पर्व की हो रही हैं अवहेलना।

चिचोलो: देश के सबसे बड़े राष्ट्रीय पर्व 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस को हर कोई गौरवित होकर मनाता हैं। आज जबकि देश 74 वर्ष की स्वतंत्रता की वर्षगांठ मना रहे हैं ऐसे में जिले के चिचोली ब्लाक के उप स्वास्थ्य केंद पाटाखेड़ा में पिछले 15 वर्षों से किसी भी तरह का कोई राष्ट्रीय पर्व न मनाया गया न ही इस शासकीय आयोजन में हमारे झंडे का पताका लहराई है। जोड़ा गया। ने जिला कलेक्टर के स्पष्ठ आदेश थे कि सभी शासकीय कर्मचारी अपने कार्यलय में इस पर्व में सम्मिलित होकर इस सम्मन के साथ व्री के साथ इस कोरोना काल मे सोसल डिस्टेन्ट को ध्यान में रखते हुए हैं। किसी भी तरह की कोई भीड़ भाड़ न करें। किंतु यह बड़े दुख की बात है कि इस वर्ष हमारे देश के प्रधान विकास, चिकित्सा में बेहतर लक्षणस्थानम, बेहतर चिकित्सा सुविधा, भवन की बात करते है किंतु ग्राउण्ड स्तर पर यह सब फुसी होते दिख रहे हैं।चिचोली ब्लाक के चिकित्सा अधिकारी भी गहरी नींद में है, प्रशासन द्वारा दिया जा रहा फंद भी चट कर लिया जा रहा है इस प्रकार से यह इस स्थिति से स्वास्थ्य सेवा चरमराती रही है।किंतु हम फिर से आपको यह बता देना चाहते हैं कि यह देश के सबसे बड़े पर्व का अपमान हैं जिसको की देश के सभी शासकीय, अर्धशासकीय, प्राथमिक व अब तो घरो पर भी हमारे राष्ट्रीय झंडे को फैराने की अनुमति मिलने पर बारा नहीं फैराया गया है। । सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पिछले कुछ महीने पूर्व जिला चिकित्सा अधिकारी के केंद्र विजिटिंग पर एएनएम उपस्थित नहीं था जिस पर फटकार लगाकर केंद्र में उपस्थित देने की बात कही थी लेकिन इसके बावजूद भी केंद्र में काफ़ी दिनों से इनकी उपस्थित नहीं हो सकी हैं। @ क्या है इनका कहना:CHO: अंकिता वरवड़े (केंद्र पाठाखेडा) - मुझे पाठाकेड़ा झावाइन करते 3 महीने ही हो रहे हैं, साथ ही कल 14 अगस्त को हमारी जिला स्तरीय बैठक और प्रशिक्षण था कल रात्रि 8: 30 तक मैं अपने बच्चों तक पहुँचता हूँ।मेरे द्वारा स्वास्थ्य केंद्र के अंतर्गत आने वाले सभी कर्मचारियों को आशा और एएनएम को पूर्व में ही 15 अगस्त की तैयारी के लिए अवगत करा दिया गया था कि केंद्र की सफाई की तैयारी करवा कर झंडा वंदन की तैयारी करें। मुझे भी इस बात का अभी तक पता चला है कि पिछले 15 वर्षों में इस स्वास्थ्य केंद्र पर झंडा वंदन का कार्यक्रम संपन्न नहीं हुआ है, अचंभित हूं और इस पर मेंरे द्वारा अपने वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत करा दिया जाएगा। मेरी और मेरे कर्मचारियों द्वारा ग्राम पंचायत पाठाकेड़ा के पंचायत भवन में और आरोग्य केंद्रों पर, जनप्रतिनिधि और ग्रामीणों के साथ सम्मिलित होकर झंडा वंदन का कार्यक्रम किया गया है और हमारे राष्ट्रीय स्वतंत्रता दिवस के पावन उत्सव को मनाया गया है। : @ राजेश अतुलकर (ब्लाक चिकित्सा अधिकारी चिचोली): गांव वालों का मामला है। ऐसे कोई आदेश नहीं हैं। शासकीय भवन होने पर भी आवश्यक नहीं की झंडा वंदन हो, जानकारी पर वरिष्ठ अधिकारी से पूछते है कि क्या कर रहे हैं। @ (CMHO बैतूल) डॉ। प्रदीप कुमार धाकड़: मुझे जानकारी नहीं अभी पता लगता है। **************************************** सवाल यह है कि इस तरह की लापरवाही क्या सही है: क्यों? केन्द्र में शुरुआत में झण्डा वंदन किया गया फिर पिछले 15 वर्षो से नहीं होना का क्या बड़ा कारण होगा। लापरवाही के लिए बड़े अधिकारी क्या कार्यवाही करते हैं, यह तो देखने की बात हैं।