अक्टूबर माह में चलेगा ‘एंटी टोबेको ड्राइव

अक्टूबर माह में चलेगा ‘एंटी टोबेको ड्राइव
अक्टूबर माह में चलेगा ‘एंटी टोबेको ड्राइव

अक्टूबर माह में चलेगा ‘एंटी टोबेको ड्राइव’ ------------------- स्कूली विद्यार्थियों की ओरल स्क्रीनिंग की जाएगी ------------------ जिले में अक्टूबर माह में ‘एंटी टोबेको ड्राइव’ संचालित की जाएगी, जिसके तहत स्वास्थ्य विभाग का अमला प्रत्येक स्कूल में पहुंचकर हाई एवं हायर सेकण्डरी स्कूल स्तर के विद्यार्थियों की ओरल स्क्रीनिंग कर उनको गुटखा अथवा तम्बाकू से होने वाले नुकसानों के बारे में बताया जाएगा। साथ ही गुटखा अथवा तम्बाकू नहीं खाने की समझाईश भी दी जाएगी। कलेक्टर श्री तेजस्वी एस. नायक ने गुरूवार को स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक लेकर उक्त अभियान की रूपरेखा तैयार की। कलेक्टर श्री नायक ने बताया कि अक्टूबर माह के द्वितीय सप्ताह में स्वास्थ्य विभाग के अमले सहित शिक्षा विभाग के खण्ड स्तरीय अधिकारियों को ओरल स्क्रीनिंग के संबंध में प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके उपरांत आगामी दो सप्ताह स्कूलों में ओरल स्क्रीनिंग का अभियान चलेगा। अभियान के तहत प्रशिक्षित स्वास्थ्यकर्मी विद्यार्थियों की ओरल स्क्रीनिंग करेंगे एवं उन्हें तम्बाकू/गुटखा खाने से होने वाले नुकसान के बारे में बताएंगे। इन विद्यार्थियों से अपने परिवार में तम्बाकू/गुटखा सेवन वाले सदस्यों की जानकारी भी ली जाएगी। यदि किसी विद्यार्थी को तम्बाकू/गुटखा सेवन से स्वास्थ्य नुकसान पहुंच रहा है अथवा कोई बीमारी की संभावना है तो ऐसे विद्यार्थियों को चिन्हित कर उनकी माह नवंबर में विशेषज्ञ चिकित्सकों के खण्ड स्तरीय शिविर आयोजित कर जांच की जाएगी एवं आवश्यक उपचार की भी सलाह दी जाएगी। कलेक्टर श्री नायक ने बताया कि अभियान शुरू करने के पूर्व खण्ड स्तरीय प्रशिक्षण के दौरान निकटतम स्कूलों में एंटी टोबेको ड्राइव की मॉक-ड्रिल भी आयोजित की जाएगी, ताकि प्रशिक्षणार्थियों को ओरल स्क्रीनिंग में ज्यादा दक्षता प्राप्त हो सके। गुरूवार की बैठक में कलेक्टर श्री नायक द्वारा जिला अस्पताल में उपचार सुविधाओं की भी समीक्षा की गई। साथ ही कहा गया कि यहां आने वाले मरीजों को उपचार में कोई असुविधा न हो, इस बात का चिकित्सक ध्यान रखें। कलेक्टर ने इस दौरान क्लीनिकल प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे नर्सिंग विद्यार्थियों के लिए बनाए गए स्टूडेंट हॉल का भी निरीक्षण किया। कलेक्टर इसके उपरांत जिला चिकित्सालय के आकस्मिक चिकित्सा कक्ष में भी पहुंचे एवं वहां मरीजों को उपलब्ध कराई जा रही चिकित्सा सुविधा का अवलोकन किया।