भैंसदेही। बदहाल सड़क से आम जन जीवन प्रभावित , आए दिन मुख्यालय पर उपस्थित नही होते PWD विभाग के जिम्मेदार अधिकारी*

PWD अधिकारी अनिल शर्मा जी , PWD इंजीनियर महेंद्र जैन से हुई इस बात पर नीचे जाने क्या है उनका कहना देखे,

भैंसदेही। बदहाल सड़क से आम जन जीवन प्रभावित ,  आए दिन मुख्यालय पर उपस्थित नही  होते PWD विभाग के  जिम्मेदार अधिकारी*
भैंसदेही। बदहाल सड़क से आम जन जीवन प्रभावित ,  आए दिन मुख्यालय पर उपस्थित नही  होते PWD विभाग के  जिम्मेदार अधिकारी*
भैंसदेही। बदहाल सड़क से आम जन जीवन प्रभावित ,  आए दिन मुख्यालय पर उपस्थित नही  होते PWD विभाग के  जिम्मेदार अधिकारी*
*(भैसदेही से राहुल कुमार की रिपोर्ट)* भैंसदेही : मुख्यालय से सीधे बैतूल मुख्य मार्ग को जोड़ने वाला आमला-झल्लार मार्ग वर्तमान में दुर्दशा का शिकार हो चुका है। विभागीय लापरवाही के चलते इस मार्ग पर गड्ढों की संख्या दिनों दिन बढ़ती ही जा रही है। समझ नही आता कि सड़कों पर गड्ढे है या गड्डों में सड़क है जबकि इसके सुधार की कोई कार्यवाही अभी तक नहीं की गई है। भैंसदेही नगर के शिव मंदिर के समीप से निकली यह सड़क शुरुआत से ही खराब है। 13 किलोमीटर झल्लार तक यह सड़क अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रही है। पूर्व में इस सड़क के गड्ढे भरे जाने की प्रक्रिया शुरु की गई थी, लेकिन कुछ गड्ढों को भरने के बाद यह प्रक्रिया भी बंद कर दी गई। भैंसदेही नगर सहित आसपास के ग्रामों के लोग बैतूल मुख्यालय जाने के लिए इसी मार्ग का उपयोग करते हैं और भारी मालवाहक वाहन भी इसी मार्ग से आते जाते हैं। जिससे यह डामरीकृत सडक जगह-जगह से एवम आमला से झल्लार तक पूर्ण रूप से खराब हो चुकी है,। जिस पर वाहन चलाना भी दुर्भर होता जा रहा है। बीमार एवं गर्भवती महिलाओं को हॉस्पिटल लाने लिजाने में बहुत परेशानी होती हैं।खासकर दो पहिया वाहन एवं छोटे चौपहिया वाहनों के लिए यह सड़क खतरनाक होती जा रही है गड्डों की वजह से आये दिन इस मार्ग पर दुर्घटना होती रहती हैं।और बड़ी दुर्घटना होने की संभावना हो सकती है ।जिसको ध्यान में रख क्षेत्रवासियों ने इस सड़क को शीघ्र पुनर्निर्माण किए जाने की मांग की है सड़क मरम्मत की जानकारी के सम्बंध में जानने के लिए लगभग 1बजे PwD कार्यालय पहुच कर पाया कि जिम्मेदार अधिकारी अनिल शर्मा जी अपने विभाग में उपस्थित नही विभाग से जानकारी जानने पर कहा गए किस काम से गये उसकी किसी को जानकारी नही बस जनकारी में इतना ही पाया कि शर्मा जी बैतूल से आते है और सप्ताह में एक , दो दिन ही आते है । उसके बाद हमने उनके आला अधिकारी जो जिला मुख्यालय पर पदस्त उनसे फोन पर चर्चा की ओर बताया कि उक्त विभाग में SDO और उपयंत्री दोनों मौजूद नही है और झल्लार आमला रोड की जानकारी के सम्बंध में जानकारी चाही तो बताया कि जानकारी लेकर बाताता हु । जिला कलेक्टर के निर्देश का उल्लेख करे तो उनके द्वारा निर्देश जारी किए गए कुछ ही दिन हुए है जिसमे स्पस्ट उल्लेख है कि जिले के समस्त विभाग के अधिकारी एवम कर्मचारियों को समय सीमा में विभाग में उपस्थित होकर मुख्यालय पर ही निवासरत होना है , जिला कलेक्टर के निर्देश के बाद भी वर्तमान में अधिकारि और कर्मचारि अपने मुख्यायल पर उपस्थित नही रहते है जिससे स्पस्ट होता है कि जिला कलेक्टर के आदेश की पूर्णतः अव्वेलना की जा रही है । *इनका कहना है* मैं मुलताई मुख्यालय में पदस्थ हूं मेरे पास भैंसदेही विभाग का अतिरिक्त प्रभार है झल्लार से आमला पहुच मार्ग मेरी ही निगरानी में बना है और उस पर 2 बारिश हो चुकी है 8 टन की छमता है , पिछली 6 अक्टूबर को मैं आया था मुझे शर्मा जी ने माना कर दिया था। *महेन्द्र जैन* *इंजीनियर(उपयंत्री)* *PWD विभाग भैंसदेही* फोन पर चर्चा में बताया कि रोड़ मरम्मत का कार्य चल रहा है मुख्यलय पर उपस्थित होने की बात पर फोन काट दिया *अनिल शर्मा* *अधिकारी* *PWD विभाग भैंसदेही* पता करता हु कार्य चल रहा है य्या नही कार्य जब प्रारंभ हो तो अधिकारी और उपयंत्री दोनों का उपस्थित रहना जरूरी है साथ ही मुख्यलय पर उपस्थित होना जरूरी है । *M S डेहरिया* *PWD जिला कार्यालय बैतूल*